Wednesday, May 11, 2011

अजी सुनिए तो ...

भ्रष्टाचार करने वाले ही इसको रोकेगें । जी हैं सुनने में थोड़ा अटपटा जरूर लगता हैं । लेकिन ये सच्चाई हैं और हमें इसे स्वीकार करना होगा । उदाहरण के तौर देखिए आज के सबसे चर्चित चेहरे और जाबांज लोकतंत्र खिलाड़ी शरद पवार । भ्रष्टों की लिस्ट में नंबर एक । राजा साहब अरे भाई टेलीकॉम वाले राजा साहब को तो भूले नहीं हैं । वैसे अपने बड़बोले राजा साहब भी कम थोड़े ना हैं । उ भी कभी मुख्यमंत्री हुआ करते थे । क्या ठाठ थी भई उनकी । बुरा वक्त आने पर आदमी कैसे अर्नगल बोलता हैं । ये कोई उनसे सीखे । उनको देख के और सुनके कोई विश्वास नहीं करेगा वो कितने बड़े भ्रष्ट है । दस साल में मध्य प्रदेश को खाली बीमारू राज्य ही नहीं बनाया बल्कि 100 साल पीछे भी धकेल दिया । उनकी वीरगाथा की और किस्से सुनिये । दस साल प्रदेश की तो मारी ही मारी । बाकी में बुरी तरह हारने के बाद प्रदेश की राजनीति ही छोड़ दी । और चल दिए दसरे ठिकाने की ओर फिलहाल राजा साहब उत्तर प्रदेश के प्रभारी बन बैठे हैं । और देश के तथाकथित युवराज के चमचे नबर वन । खैर इसमें उनकी भी गलती नहीं हैं । आदत धीरे धीरे जाती हैं । बहरहाल हम लोग भ्रष्टाचार पर बात कर रहे थे । वैसे स्विस में पैसा जमा करने में राजा साहब शीर्ष भारतियों में आते है । सरकार नें अभी एक कमेटी बनायी हैं । जो लोकपाल बिल के बारे में पार्टी करेगें । वैसे भी मीटिंग अनसीरियस लोगों के लिए एक पार्टी के तरह ही होती हैं ।